6000 आयुष डॉक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ कोरोना से जंग में जुटे : आयुष MD राजकमल
6000 आयुष डॉक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ कोरोना से जंग में जुटे

भारत सरकार द्वारा दिया गया प्रशिक्षण जिलाधिकारियों को इनसे काम लेने के निर्देश जारी

6000 आयुष डॉक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ कोरोना से जंग में जुटे : आयुष MD राजकमल

मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के निर्देश पर आयुष विभाग के अधीन 6000 आयुर्वेद, होम्योपैथ व यूनानी डॉक्टर व पैरामेडिकल स्टाफ भी कोरोना को हराने की लड़ाई में जुट गए हैं। भारत सरकार के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों द्वारा प्रशिक्षण दिलाये जाने के बाद इन्हें जिलों में महामारी से बचाव के कार्यों में लगाए जाने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। 

राज्य आयुष मिशन के एमडी राजकमल यादव ने बताया कि भारत सरकार की गाइडलाइंस, स्वास्थ्य व आयुष मंत्रालय के विशेषज्ञों द्वारा ऑनलाइन ट्रेनिंग प्रदान की गई। जिसमें कोरोना वायरस इंफेक्शन से बचाव व रोकथाम के साथ कोरेंटाइन सुविधा प्रबंधन और अन्य प्रोटोकॉल का प्रशिक्षण दिया गया। इसकी निगरानी स्वयं प्रमुख सचिव आयुष प्रशांत त्रिवेदी द्वारा की गई। 

बताया कि कई जनपदों में इन्हें हाउस होल्ड सर्वे, डेटा कलेक्शन, सामुदायिक जागरूकता संबंधी कार्यों में लगाया जा चुका है। सभी जनपदों में होम्योपैथ, आयुर्वेद व यूनानी चिकित्सकों व अन्य सहयोगी प्रशिक्षित स्टाफ की सूची जिलाधिकारियों को उपलब्ध करा दी गई है। इन सभी का उपयोग जिलाधिकारी जनपद में आवश्यकता के अनुरूप कर सकेंगे।

YOUR REACTION?



फेसबुक वार्तालाप